विदेशी मुद्रा प्रबंधक

भारतीय रुपए के बाहरी मूल्‍य के निर्धारण के लिए बाज़ार-आधारित प्रणाली में परिवर्तन के साथ विदेशी मुद्रा बाज़ार ने सुधार अवधि की शुरुआत से ही भारत में ज़ोर पकड़ा है।

अधिसूचनाएं


भारतीय रुपये (INR) में अंतरराष्ट्रीय व्यापार निपटान - निर्यात आगम के लिए अतिरिक्त चालू खाता खोलना

भा.रि.बैंक/2023-2024/86
विमुवि परिपत्र सं.08

17 नवंबर 2023

सेवा में,

सभी श्रेणी-1 प्राधिकृत व्यापारी बैंक

महोदया/ महोदय

भारतीय रुपये (INR) में अंतरराष्ट्रीय व्यापार निपटान - निर्यात आगम के लिए अतिरिक्त चालू खाता खोलना

प्राधिकृत व्यापारी श्रेणी-I (एडी श्रेणी-I) बैंकों का ध्यान 11 जुलाई 2022 के ए.पी. (डीआईआर सीरीज़) परिपत्र संख्या 10 की ओर आकर्षित किया जाता है, जिसके अनुसार व्यापार में साझेदार देश के प्रतिनिधि बैंक/कों द्वारा भारत में स्थित एडी श्रेणी-1 बैंकों में खोले गए विशेष रुपया वॉस्ट्रो खातों के माध्यम से निर्यात/ आयात की इनवाइस, भुगतान और निपटान भारतीय रुपये (INR) में करने की एक अतिरिक्त व्यवस्था उपलब्ध करायी गयी थी।

2. इसके अलावा, एडी श्रेणी-I बैंकों का ध्यान 19 अप्रैल 2022 के परिपत्र डीओआर.सीआरई.आरईसी.23/21.08.008/2022-23 के पैरा 4.1 (बी) की ओर आकर्षित किया जाता है जो कि बैंकों द्वारा चालू खाते और सीसी/ओडी खाते खोले जाने से संबंधित है। इस प्रावधान के अनुसार और निर्यातकों को परिचालन से जुड़ी बेहतर सुविधाएँ प्रदान करने के उद्देश्य से, यह निर्णय लिया गया है कि ऐसे निर्यातक जिन्होंने ऊपर उल्लिखित 11 जुलाई 2022 के परिपत्र के प्रावधानों के तहत एडी श्रेणी-1 बैंकों में विशेष रुपया वोस्ट्रो खाते खुलवाएं हैं, उन्हें उनके निर्यातक घटकों के लिए एक अतिरिक्त विशेष चालू खाता खोलने की अनुमति दी जाती है जो केवल उनके द्वारा किए गए निर्यात लेनदेन के निपटान हेतु होगा।

भवदीय

(पुनीत पंचोली)
मुख्य महाप्रबंधक

2024
2023
2022
2021
2020
2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष