प्रेस प्रकाशनी

भारतीय रिजर्व बैंक पर्याप्त नकदी उपलब्धता का आश्वासन देता है; जनता से धैर्य रखनें और सुविधानुसार नोटों को बदलवाने का आग्रह

11 नवंबर 2016

भारतीय रिजर्व बैंक पर्याप्त नकदी उपलब्धता का आश्वासन देता है;
जनता से धैर्य रखनें और सुविधानुसार नोटों को बदलवाने का आग्रह

आज जारी एक वक्तव्य में, भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा है कि मौजूदा 500 और 1000 बैंकनोटों की वैध मुद्रा मान्यता की वापसी के फलस्वरूप, देश भर में 2000 और अन्य मूल्यवर्गों के नोटों को वितरित करने की व्यवस्था की गयी है।

बैंकों के पास पर्याप्त नकदी उपलब्ध है और पूरे देश में नोटों को पहुंचाने के लिए सभी व्यवथाएं की गई है। 10 नवंबर 2016 से बैंक शाखाओं ने पहले ही नोटों की बदलवाना शुरू कर दिया है।

जैसा कि भारतीय रिजर्व बैंक की प्रकाशनी में उल्लेख किया है, बैंकों को अपने एटीएम मापाकंन (रिकेलिब्रेट) करने के लिए कुछ समय लग सकता है; एक बार एटीएम कार्य करने लगे तो, जनता 18 नवंबर 2016 तक प्रति दिन प्रति कार्ड 2,000 की एक अधिकतम सीमा तक एटीएम से आहरण करने में सक्षम हो जाएगी; और उसके बाद प्रति दिन प्रति कार्ड 4000 निकाला जा सकता है। कई एटीएम में आज सुबह से कार्य करना शुरू कर दिया है जैसे ही बैंकों द्वारा इन मशीनों के मापाकंन (रिकेलिब्रेशन) को पूरा कर लिया जाएगा, 2000 के आहरण की अनुमति शुरू की जाएगी।

वापस लिए गए मूल्ववर्ग 500 और 1000 को बदलवाने की सुविधा लगभग 50 दिनों के लिए उपलब्ध है। रिजर्व बैंक जनता से धैर्य बनाए रखने की अपील करता है और उनसे 30 दिसंबर 2016 से पहले किसी भी समय, अपनी सुविधानुसार अपने पुराने नोटों को बदलने का आग्रह करता है।

अल्पना किल्लावाला
प्रधान परामर्शदाता

प्रेस प्रकाशनी: 2016-2017/1182


2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष