प्रेस प्रकाशनी

(333 kb )
2000 मूल्यवर्ग के बैंकनोटों को वापस लेना – स्थिति

1 दिसंबर 2023

2000 मूल्यवर्ग के बैंकनोटों को वापस लेना – स्थिति

भारतीय रिज़र्व बैंक ने दिनांक 19 मई 2023 की प्रेस प्रकाशनी 2023-2024/257 के माध्यम से 2000 मूल्यवर्ग के बैंकनोटों को संचलन से वापस लेने की घोषणा की थी। 2000 के बैंकनोटों की वापसी की स्थिति भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा समय-समय पर प्रकाशित की गई है।

2. 2000 के बैंकनोटों को जमा करने और/ या बदलने की सुविधा शुरुआत में 30 सितंबर 2023 तक देश की सभी बैंक शाखाओं में उपलब्ध थी, जिसे बाद में 7 अक्तूबर 2023 तक बढ़ा दिया गया था।

3. 2000 के बैंकनोटों को बदलने की सुविधा 19 मई 2023 से भारतीय रिज़र्व बैंक के 19 निर्गम कार्यालयों (भारतीय रिज़र्व बैंक निर्गम कार्यालय)1 में भी उपलब्ध थी। 9 अक्तूबर 2023 से, भारतीय रिज़र्व बैंक के निर्गम कार्यालय, काउंटरों पर 2000 मूल्यवर्ग के बैंकनोटों को बदलने के अलावा, व्यक्तियों/ संस्थाओं से उनके बैंक खातों में जमा करने के लिए भी 2000 के बैंकनोट स्वीकार कर रहे हैं। इसके अलावा, देश के भीतर जनता के सदस्य भारत में अपने बैंक खातों में जमा करने हेतु देश के किसी भी डाकघर से भारतीय डाक के माध्यम से भारतीय रिज़र्व बैंक के किसी भी निर्गम कार्यालय को 2000 के बैंक नोट भेज सकते हैं।

4. 19 मई 2023 को कारोबार की समाप्ति पर संचलन में 2000 के बैंकनोटों का कुल मूल्य 3.56 लाख करोड़ था, जब 2000 के बैंकनोटों को वापस लेने की घोषणा की गई थी, जो अब 30 नवंबर 2023 को कारोबार की समाप्ति पर घटकर 9,760 करोड़ रह गया है। इस प्रकार, 19 मई 2023 तक संचलन में मौजूद 2000 बैंकनोटों में से 97.26 प्रतिशत वापस आ गए हैं।

5. 2000 के बैंकनोट वैध मुद्रा बने रहेंगे।

(योगेश दयाल) 
मुख्य महाप्रबंधक

प्रेस प्रकाशनी: 2023-2024/1386


1 अहमदाबाद, बेंगलुरु, बेलापुर, भोपाल, भुवनेश्वर, चंडीगढ़, चेन्नई, गुवाहाटी, हैदराबाद, जयपुर, जम्मू, कानपुर, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई, नागपुर, नई दिल्ली, पटना और तिरुवनंतपुरम


2024
2023
2022
2021
2020
2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष