प्रेस प्रकाशनी

भारतीय रिज़र्व बैंक 30 मार्च 2020 को आयोजित होने वाली परिवर्ती दर रेपो नीलामी को 26 मार्च 2020 को आयोजित करेगा तथा एसपीडीएस के लिए अस्थायी रूप से स्थायी तरलता सुविधा को बढ़ाया

24 मार्च 2020

भारतीय रिज़र्व बैंक 30 मार्च 2020 को आयोजित होने वाली परिवर्ती दर रेपो नीलामी को 26 मार्च 2020 को
आयोजित करेगा तथा एसपीडीएस के लिए अस्थायी रूप से स्थायी तरलता सुविधा को बढ़ाया

रिज़र्व बैंक ने दिनांक 6 मार्च 2020 की प्रेस प्रकाशनी 2030/2019-2020 के माध्यम से 30 मार्च 2020 और 31 मार्च 2020 को आयोजित की जानेवाली 25,000 करोड़ प्रत्येक की दो परिवर्ती दर मीयादी रेपो नीलामियों की घोषणा की थी ताकि तरलता की किसी भी अतिरिक्त मांग को पूरा किया जा सके और वर्ष के अंत में तरलता प्रबंधन में बैंकिंग प्रणाली को लचीलापन प्रदान किया जा सके। एक विशेष मामले के रूप में, स्टैंडअलोन प्राथमिक व्यापारियों(एसपीडीएस) को भी अन्य योग्य प्रतिभागियों के साथ इन नीलामियों में भाग लेने की अनुमति दी गई थी।

तेजी से विकसित हो रही वित्तीय स्थितियों की समीक्षा और COVID-19 के कारण हुए व्यवधानों के प्रभाव को ध्यान में रखते हुए, 30 मार्च 2020 के लिए निर्धारित पहली नीलामी को 26 मार्च 2020 को आयोजित करने का निर्णय लिया गया है। 26 मार्च 2020 को आयोजित होने वाली नीलामी के संशोधित विवरण निम्नानुसार हैं:

क्र सं दिनांक अधिसूचित राशि
( करोड़ में)
अवधि
(दिन)
समयावधि प्रत्यावर्तन की तारीख
1 26 मार्च 2020 25,000 12 2.00 मध्याहन – 2.30 मध्याहन 7 अप्रैल 2020

31 मार्च 2020 के लिए निर्धारित नीलामी में कोई बदलाव नहीं हुआ है। मियादी रेपो नीलामियों के लिए लागू अन्य सभी शर्तें अपरिवर्तित रहेंगी।

इसके अलावा, एसपीडीएस को वर्ष के अंत में तरलता प्रबंधन की सुविधा प्रदान करने के लिए, रिज़र्व बैंक की स्थायी तरलता सुविधा (एसएलएफ़) के अंतर्गत एसपीडीएस को उपलब्ध तरलता को तत्काल प्रभाव से अस्थायी रूप से 2800 करोड़ से 10,000 करोड़ तक बढ़ाने का निर्णय लिया गया है।

(योगेश दयाल) 
मुख्य महाप्रबंधक

प्रेस प्रकाशनी : 2019-2020/2110


2020
2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष