प्रेस प्रकाशनी

भारतीय रिजर्व बैंक ने बैंकिंग सेवाओं में अंतर्राष्ट्रीय व्यापार (आईटीबीएस) सर्वेक्षण 2018-19 शुरू किया

8 अगस्त 2019

भारतीय रिजर्व बैंक ने बैंकिंग सेवाओं में अंतर्राष्ट्रीय व्यापार (आईटीबीएस)
सर्वेक्षण 2018-19 शुरू किया

भारतीय रिजर्व बैंक ने बैंकिंग सेवाओं में अंतर्राष्ट्रीय व्यापार (आईटीबीएस) पर अपने सर्वेक्षण का 2018-19 दौर शुरू किया ।

वर्ष 2006-07 के बाद से प्रतिवर्ष आयोजित किया जाने वाला सर्वेक्षण भारतीय बैंकों की विदेशों में सक्रिय शाखाओं/सहायक संस्थाओं और विदेशी बैंकों की भारत में कार्यरत शाखाओं/सहायक संस्थाओं द्वारा प्रदान की गई वित्तीय सेवाओं के बारे में जानकारी प्रदान करता है, जो ग्राहकों से वसूल किए जाने वाले प्रकट/ अंतर्निहित शुल्क/कमीशन पर आधारित है।

वर्ष 2018-19 दौर के लिए सर्वेक्षण अनुसूची विदेशों में कार्यरत भारतीय बैंकों की शाखाओं/सहायक संस्थाओं/संयुक्त उद्यम/सहयोगी और भारत में कार्यरत विदेशी बैंकों की शाखाओं/सहायक संस्थाओं द्वारा भरी जानी आवश्यक है। अंतर्निहित सत्यापन जांच के साथ इस सर्वेक्षण अनुसूची का सॉफ्ट फॉर्म (हिंदी और अंग्रेजी दोनों में - जिनमें से एक का इस्तेमाल किया जा सकता है) भारतीय रिजर्व बैंक की वेबसाइट पर फार्म शीर्ष (होम पेज पर नीचे अन्य लिंक में उपलब्ध) और सर्वेक्षण उप-शीर्ष में उपलब्ध है । अनुसूची विधिवत भरकर, सत्यापित करके 30 अगस्त 2019 तक ई-मेल की जा सकती है।

किसी प्रकार की पूछताछ/स्पष्टीकरण के लिए, कृपया ई-मेल या निम्नलिखित से संपर्क करें:

निदेशक
अंतरराष्ट्रीय बैंकिंग प्रभाग
सांख्यिकी और सूचना प्रबंध विभाग (डीएसआईएम)
भारतीय रिज़र्व बैंक
सी-9, 6वीं मंजिल, बान्द्रा-कुर्ला कॉम्प्लेक्स, बान्द्रा (पूर्व)
मुंबई - 400 051
फोन 022 - 2657 8649 / 494 / 389

अजीत प्रसाद
निदेशक (संचार)

प्रेस प्रकाशनी: 2019-2020/383


2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष