अधिसूचनाएं

विदेशी मुद्रा (अनिवासी) खाता (बैंक) योजना [एफसीएनआर(बी)] - जमाराशियों पर ब्याज दर पर मास्टर निदेश

भा.रि.बैंक/2021-22/123
डीओआर.एसओजी(एसपीई).आरईसी.सं.67/13.03.00/2021-22

11 नवम्बर 2021

सभी अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक (क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक सहित)
सभी लघु वित्त बैंक
सभी स्थानीय क्षेत्र के बैंक
सभी भुगतान बैंक
सभी प्राथमिक (शहरी) सहकारी बैंक / जिला मध्यवर्ती सहकारी बैंक / राज्य सहकारी बैंक

महोदय / महोदया

विदेशी मुद्रा (अनिवासी) खाता (बैंक) योजना [एफसीएनआर(बी)] - जमाराशियों पर ब्याज दर पर मास्टर निदेश

कृपया दिनांक 03 मार्च 2016 के मास्टर निदेश - भारतीय रिज़र्व बैंक (जमा पर ब्याज दर) निदेश, 2016 की धारा 19 और दिनांक 12 मई 2016 के मास्टर निदेश - भारतीय रिज़र्व बैंक (सहकारी बैंक - जमाराशियों पर ब्याज दर) निदेश, 2016 की धारा 18 में निहित विदेशी मुद्रा (अनिवासी) खाता (बैंक) योजना पर निर्देश देखें।

2. बेंचमार्क दर के रूप में लाइबोर (LIBOR) के नजदीकी भविष्य में बंद होने के मद्देनजर, यह निर्णय लिया गया है कि बैंकों को संशोधित ब्याज दरों की सीमा को 50 बीपीएस की वृद्धि के साथ व्यापक रूप से प्रचलित 'संबंधित मुद्रा के लिए एक दिवसीय वैकल्पिक संदर्भ दर (एआरआर ARR)' का उपयोग करके एफसीएनआर (बी) जमा पर ब्याज दरों को ऑफर करने की अनुमति दी जाए।

3. परिवर्तन के दौरान सूचना विषमता को हैंडल करने के उपाय के रूप में, व्यापक रूप से स्वीकृत बेंचमार्क स्थापित होने तक फेडाई एआरआर को प्रकाशित कर सकता है। संशोधित मास्टर निदेशों के संबंधित अनुभाग अनुबंध में दर्शाए गए हैं।

4. इस संबंध में अन्य सभी निर्देश अपरिवर्तित रहेंगे।

भवदीय,

(नीरज निगम)
प्रभारी मुख्य महाप्रबंधक
संलग्नक: यथोपरि


अनुबंध

[11 नवम्बर 2021 के परिपत्र डीओआर.एसओजी(एसपीई).आरईसी.सं 67/13.03.00/2021-22 का संलग्नक]

मास्टर निदेश – भारतीय रिज़र्व बैंक (जमाराशियों पर ब्याज दर) निदेश, 2016

एमडी का खंड वर्तमान प्रावधान संशोधित प्रावधान
19(डी) अस्थिर दर वाली जमाराशियों पर ब्याज संबंधित मुद्रा/ परिपक्वता के लिए स्वैप दर की सीलिंग के भीतर अदा किया जाएगा और स्थिर दर वाली जमाराशियों पर ब्याज संबंधित मुद्रा/ परिपक्वता के लिए लाइबोर (LIBOR) दर की सीलिंग के भीतर अदा किया जाएगा। अस्थिर दर वाली जमाराशियों पर ब्याज संबंधित मुद्रा/ परिपक्वता के लिए स्वैप दर की सीलिंग के भीतर अदा किया जाएगा और स्थिर दर वाली जमाराशियों पर ब्याज संबंधित मुद्रा के लिए एक दिवसीय वैकल्पिक संदर्भ दर*/ परिपक्वता की सीलिंग के भीतर अदा किया जाएगा।
19(एफ़) पिछले महीने के अंतिम कार्यदिवस पर लाइबोर/ स्वैप दरों के आधार पर अगले महीने में प्रभावी ब्याज दरों की सीलिंग दर निर्धारित की जाएगी। पिछले महीने के अंतिम कार्यदिवस पर संबंधित मुद्रा के लिए एक दिवसीय वैकल्पिक संदर्भ दर* / स्वैप दरों के आधार पर अगले महीने में प्रभावी ब्याज दरों की सीलिंग दर निर्धारित की जाएगी।
19(जी)

एफसीएनआर(बी) जमाराशियों पर ब्याज दरों की अधिकतम सीमा इस प्रकार होगी:

जमाराशि की अवधि सीलिंग दर
1 वर्ष से लेकर 3 वर्ष से कम तक लाइबोर/स्वैप दर और 200 आधार अंक
3 वर्ष से ऊपर तथा 5 वर्ष तक लाइबोर/स्वैप दर और 300 आधार अंक

एफसीएनआर(बी) जमाराशियों पर ब्याज दरों की अधिकतम सीमा इस प्रकार होगी:

जमाराशि की अवधि सीलिंग दर
1 वर्ष से लेकर 3 वर्ष से कम तक संबंधित मुद्रा के लिए एक दिवसीय वैकल्पिक संदर्भ दर* / स्वैप दर और 250 आधार अंक
3 वर्ष से अधिक तथा 5 वर्ष तक संबंधित मुद्रा के लिए एक दिवसीय वैकल्पिक संदर्भ दर* / स्वैप दर और 350 आधार अंक
19(एच) फ़ॉरेन एक्स्चेंज डीलर असोशिएशन ऑफ इंडिया (फेडाई) द्वारा कोट की गई/ प्रदर्शित दरें एफसीएनआर(बी) जमाखातों पर ब्याज दरों की गणना के लिए संदर्भ के तौर पर प्रयोग की जाएंगी। फ़ॉरेन एक्स्चेंज डीलर असोशिएशन ऑफ इंडिया (फेडाई) द्वारा कोट की गई/ प्रदर्शित संबंधित मुद्रा के लिए एक दिवसीय वैकल्पिक संदर्भ दर* / स्वैप दरें एफसीएनआर(बी) जमाखातों पर ब्याज दरों की गणना के लिए संदर्भ के तौर पर प्रयोग की जाएंगी।

मास्टर निदेश– भारतीय रिज़र्व बैंक (सहकारी बैंक – जमाराशियों पर ब्याज दर) निदेश, 2016

एमडी का खंड वर्तमान प्रावधान संशोधित प्रावधान
18(डी) अस्थिर दर वाली जमाराशियों पर ब्याज संबंधित मुद्रा/ परिपक्वता के लिए स्वैप दर की उच्चतम सीमा अदा किया जाएगा और स्थिर दर वाली जमाराशि पर ब्याज संबंधित मुद्रा/ परिपक्वता के लिए लाइबोर दर की उच्चतम सीमा के भीतर अदा किया जाएगा। अस्थिर दर वाली जमाराशियों पर ब्याज संबंधित मुद्रा/ परिपक्वता के लिए स्वैप दर की उच्चतम सीमा अदा किया जाएगा और स्थिर दर वाली जमाराशि पर ब्याज संबंधित मुद्रा के लिए एक दिवसीय वैकल्पिक संदर्भ दर */ परिपक्वता की उच्चतम सीमा के भीतर अदा किया जाएगा।
18(एफ़) पिछले महीने के अंतिम कार्यदिवस पर लाइबोर/ स्वैप दर के आधार पर अगले महीने में प्रभावी ब्याज दरों की उच्चतम सीमा दर निर्धारित की जाएगी। पिछले महीने के अंतिम कार्यदिवस पर संबंधित मुद्रा के लिए एक दिवसीय वैकल्पिक संदर्भ दर* / स्वैप दरों के आधार पर अगले महीने में प्रभावी ब्याज दरों की सीलिंग दर निर्धारित की जाएगी।
18(जी)

एफसीएनआर(बी) जमाराशियों पर ब्याज दर की उच्चतम सीमा इस प्रकार होगी:

जमाराशि की अवधि उच्चतम सीमादर
1 वर्ष से लेकर 3 वर्ष से कम तक लाइबोर/स्वैप दर और 200 का आधार अंक
3 वर्ष से अधिक और 5 वर्ष तक लाइबोर/स्वैप दर और 300 का आधार अंक

एफसीएनआर(बी) जमाराशियों पर ब्याज दर की उच्चतम सीमा इस प्रकार होगी:

जमाराशि की अवधि उच्चतम सीमादर
1 वर्ष से लेकर 3 वर्ष से कम तक संबंधित मुद्रा के लिए एक दिवसीय वैकल्पिक संदर्भ दर* / स्वैप दर और 250 आधार अंक
3 वर्ष से ऊपर और 5 वर्ष तक संबंधित मुद्रा के लिए एक दिवसीय वैकल्पिक संदर्भ दर* / स्वैप दर और 350 आधार अंक
18(एच) भारतीय विदेशी मुद्रा व्यापारी संघ (एफ़ईडीएआई) द्वारा उद्धृत /प्रदर्शित लाइबोर/स्वैप दरें एफसीएनआर(बी) जमाखातों पर ब्याज की गणना के लिए संदर्भ के तौर पर प्रयोग की जाएंगी। भारतीय विदेशी मुद्रा व्यापारी संघ (एफ़ईडीएआई) द्वारा उद्धृत /प्रदर्शित संबंधित मुद्रा के लिए एक दिवसीय वैकल्पिक संदर्भ दर* / स्वैप दरें एफसीएनआर(बी) जमाखातों पर ब्याज दरों की गणना के लिए संदर्भ के तौर पर प्रयोग की जाएंगी।

* वैकल्पिक संदर्भ दर (एआरआर) संबंधित मुद्रा के लिए व्यापक रूप से स्वीकृत एआरआर को संदर्भित करता है (संदर्भ: ‘लाइबोर(LIBOR) अंतरण के लिए रोडमैप’ पर दिनांक 08 जुलाई 2021 के आरबीआई परिपत्र केंका.एफ़एमआरडी. डीआईआरडी.एस39/14.02.001/2021-22)


2021
2020
2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष