बैंकिंग प्रणाली का विनियामक

बैंक राष्‍ट्रीय वित्‍तीय प्रणाली की नींव होते हैं। बैंकिंग प्रणाली की सुरक्षा एवं सुदृढता को सुनिश्चित करने और वित्‍तीय स्थिरता को बनाए रखने तथा इस प्रणाली के प्रति जनता में विश्‍वास जगाने में केंद्रीय बैंक महत्‍वपूर्ण भूमिका अदा करता है।

प्रेस प्रकाशनी


जुलाई 07, 2020
जून 2020 माह के लिए निधियों के सीमांत लागत आधारित उधार दर (एमसीएलआर)
जुलाई 02, 2020
19 जून 2020, शुक्रवार को भारत में अनुसूचित बैंकों की स्थिति का विवरण
जून 19, 2020
05 जून 2020, शुक्रवार को भारत में अनुसूचित बैंकों की स्थिति का विवरण
जून 17, 2020
रिज़र्व बैंक ने सार्वजनिक टिप्पणियों के लिए आवास वित्त कंपनियों (एचएफ़सी) पर लागू विनियमनों में प्रस्तावित परिवर्तन जारी किए
जून 12, 2020
रिज़र्व बैंक ने भारतीय निजी क्षेत्र के बैंकों के लिए वर्तमान स्वामित्व दिशानिर्देशों और कॉर्पोरेट संरचना की समीक्षा करने के लिए एक आंतरिक कार्य समूह का गठन किया
जून 11, 2020
रिज़र्व बैंक ने ‘भारत में वाणिज्यिक बैंकों में प्रशासन पर चर्चा पत्र’ जारी किया
जून 08, 2020
ऋण एक्सपोज़र की बिक्री और मानक आस्तियों के प्रतिभूतिकरण हेतु मसौदा रूपरेखा
मई 2020 माह के लिए निधियों के सीमांत लागत आधारित उधार दर (एमसीएलआर)
2020
2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष