Download
the hindi
font
 
???? ???? ??     ?????? ????     ????????  
   ????? ?????     ????? ?????     ????? ???? ???? ???? ??????     ??????? ??????     ????????   ???? ??????     ???????? ???? 
Home >> Notification - Display
Date: 04/05/2012
एफसीएनआर (बी) जमाराशियों पर ब्याज दरें

आरबीआई/2011-12/535
बैंपविवि. डीआईआर. बीसी. 102/13.03.00/2011-12

4 मई 2012

सभी अनुसूचित वाणिज्य बैंक
(क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों को छोड़कर)

महोदय/महोदया

एफसीएनआर (बी) जमाराशियों पर ब्याज दरें

कृपया एफसीएनआर (बी) खातों में धारित जमाराशियों पर ब्याज दरों से संबंधित 23 नवंबर 2011 के हमारे परिपत्र सं.बैंपविवि. डीआईआर. बीसी. 59/13.03.00/2011-12 का पैरा 2 देखें । बाजार की मौजूदा परिस्थितियों के परिप्रेक्ष्य में यह निर्णय लिया गया है कि 4 मई 2012 को भारत में कारोबार की समाप्ति से अगली सूचना तक एफसीएनआर (बी) जमाराशियों पर ब्याज दरें निम्नानुसार होंगी :

परिपक्वता अवधि

वर्तमान

संशोधित

1 वर्ष से 3 वर्ष से कम तक

लाइबोर/स्वैप से 125 आधार अंक अधिक

लाइबोर/स्वैप से 200 आधार अंक अधिक

3 - 5 वर्ष तक

लाइबोर/स्वैप से 125 आधार अंक अधिक

लाइबोर/स्वैप से 300 आधार अंक अधिक

अस्थिर दर की जमाराशियों पर संबंधित मुद्रा/परिपक्वता अवधि की स्वैप दरों की उच्चतम सीमा से 200 आधार अंक/300 आधार अंक अधिक दर पर, जो भी लागू हो, ब्याज का भुगतान किया जाएगा। अस्थिर दर की जमाराशियों के लिए ब्याज पुनर्निर्धारण की अवधि छः माह होगी।

2. एफसीएनआर (बी) जमाराशियों में से विदेशी मुद्रा में पोतलदान पूर्व ऋण (पीसीएफसी)/ विदेश में निर्यात बिलों की पुनर्भुनाई (ईबीआर) के रूप में विदेशी मुद्रा ऋण निर्यातकों एवं अन्य ऐसी हस्तियों (जिनमें वे निर्यातक भी शामिल हैं जो निर्यात क्षमता उत्पन्न करने हेतु विदेशी मुद्रा मीयादी ऋण प्राप्त करने के इच्छुक हैं) को जिनके पास स्वाभाविक हेज है या जिनके पास विदेशी मुद्रा जोखिम का प्रबंध करने के लिए जोखिम प्रबंध नीति है, दिया जा सकता है।

3. इस संबंध में समय-समय पर यथासंशोधित अन्य सभी अनुदेश अपरिवर्तित रहेंगे ।

4. 4 मई 2012 का संशोधनकारी निदेश बैंपविवि. सं. डीआईआर. बीसी. 101/13.03.00/2011-12 संलग्न है ।

भवदीय

(राजेश वर्मा)
मुख्य महाप्रबंधक

अनुलग्नक : यथोक्त


बैंपविवि. डीआईआर. बीसी. 101/13.03.00/2011-12

4 मई 2012

एफसीएनआर (बी) जमाराशियों पर ब्याज की दरें

बैंककारी विनियमन अधिनियम 1949 की धारा 35 क द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए तथा अनिवासी (विदेशी) (एनआरई) खातों तथा एफसीएनआर (बी) खातों में धारित जमाराशियों पर ब्याज की दरों पर 23 नवंबर 2011 के निदेश बैंपविवि. सं. डीआईआर. बीसी. 58 /13.03.00/2011-12 में संशोधन करते हुए और इस बात से संतुष्ट होकर कि ऐसा करना जनहित में आवश्यक तथा समयोचित है, भारतीय रिज़र्व बैंक एतद्द्वारा निदेश देता है कि भारत में दिनांक 4 मई 2012 को कारोबार की समाप्ति के बाद से एफसीएनआर (बी) जमाराशियों पर ब्याज की दरें निम्नानुसार होंगी :

परिपक्वता अवधि

वर्तमान

संशोधित

1 वर्ष से 3 वर्ष से कम तक

लाइबोर/स्वैप से 125 आधार अंक अधिक

लाइबोर/स्वैप से 200 आधार अंक अधिक

3 - 5 वर्ष तक

लाइबोर/स्वैप से 125 आधार अंक अधिक

लाइबोर/स्वैप से 300 आधार अंक अधिक

अस्थिर दर की जमाराशियों पर संबंधित मुद्रा/ परिपक्वता अवधि की स्वैप दरों की उच्चतम सीमा से 200 आधार अंक/ 300 आधार अंक अधिक दर पर, जो भी लागू हो, ब्याज का भुगतान किया जाएगा । अस्थिर दर की जमाराशियों के लिए ब्याज पुनर्निर्धारण की अवधि छः माह होगी ।

(बि. महापात्र)
कार्यपालक निदेशक

 
   ?????? ??????? ???? ?????????? ????????

??????? ?????????? 5 ?? ???? ???? ?? 1024 X 768 ?????????? ??? ????? ?????? ???? ?? ???? ???