मुद्रा निर्गमकर्ता

रिज़र्व बैंक देश का मुख्य नोट निर्गमकर्ता प्राधिकारी है। भारत सरकार के साथ हम स्वच्छ और असली नोटों की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित करने के लक्ष्य के साथ राष्ट्र की मुद्रा के डिज़ाइन, उत्पादन और समग्र प्रबंध के लिए उत्तरदायी हैं।

अधिसूचनाएं


नोट सॉर्टिंग मशीन – प्रमाणीकरण तथा फिटनेस सॉर्टिंग मानक

भा.रि.बैं/2022-23/79
डीसीएम(एनपीडी)सं.S488/18.00.14/2022-23

1 जुलाई 2022

अध्यक्ष/प्रबंध निदेशक/मुख्य कार्यकारी अधिकारी
समस्त बैंक

महोदया/महोदय

नोट सॉर्टिंग मशीन – प्रमाणीकरण तथा फिटनेस सॉर्टिंग मानक

कृपया बैंकों में संस्थापित नोट सॉर्टिंग मशीन से संबन्धित दिनांक 11 मई 2010 के हमारे परिपत्र डीसीएम(आर&डी)सं. जी-26/18.00.14/2009-10 ''नोट  प्रमाणीकरण और फिटनेस सॉर्टिंग मानक'' का संदर्भ लें।

2. नई शृंखला के नोटों के निर्गम के परिप्रेक्ष्य में इन मानकों की समीक्षा के उपरांत परिवर्धित दिशानिर्देश कार्यान्वयन के लिए संलग्न हैं।

3. ये दिशानिर्देश तत्काल प्रभाव से लागू हैं।

भवदीय

(संजीव प्रकाश)
मुख्य महाप्रबंधक

संलग्न: यथोक्त


नोट प्रमाणीकरण और फिटनेस सॉर्टिंग मानकों पर दिशानिर्देश

1. परिचय

एक उपयुक्त (फिट) नोट एक ऐसा नोट है जो वास्तविक है, पर्याप्त रूप से स्वच्छ है ताकि इसके मूल्यवर्ग का आसानी से पता लगाया जा सके और इस प्रकार पुनर्चक्रण के लिए उपयुक्त हो। एक अनुपयुक्त (अनफिट) नोट एक ऐसा नोट है जो अपनी भौतिक स्थिति के कारण पुनर्चक्रण के लिए उपयुक्त नहीं है या किसी ऐसी श्रृंखला से संबंधित है जिसे भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा चरणबद्ध रूप से समाप्त कर दिया गया है। इस दस्तावेज़ में निर्धारित सभी फिटनेस मानकों का व्यक्तिगत रूप से मूल्यांकन किया जाना है। एक नोट को पुनर्चक्रण के लिए उपयुक्त माने जाने वाले सभी फिटनेस मानकों को पास करना होगा।

ये मानक बैंकों द्वारा उपयोग की जाने वाली नकदी संचालन मशीनों (इसके पश्चात इसे यहाँ 'मशीन' कहा गया है) हेतु न्यूनतम मानक प्रदान करते हैं । नोटों को केवल तभी पुनर्चक्रित/पुन: जारी किया जा सकता है जब उनका मूल्यांकन इन मानकों के अनुसार वास्तविक और उपयुक्त के रूप में किया जाता है। फिटनेस सॉर्टिंग के लिए प्रामाणिकता जांच एक पूर्वापेक्षा है। फिटनेस सॉर्टिंग केवल वास्तविक नोटों के मामले में ही की जा सकती है। मशीनें विश्वसनीय और सुसंगत तरीके से संदिग्ध जाली नोटों और ऐसे नोटों, जो इन मानकों के संदर्भ में संचलन के लिए अनुपयुक्त हैं, को पहचानने और अलग करने में सक्षम होंगी।

भारतीय रिजर्व बैंक समय-समय पर कुछ निश्चित श्रृंखला के नोटों को संचलन से बाहर करता है। यद्यपि ये नोट, जब तक कि अन्यथा निर्दिष्ट, पुन: जारी करने के लिए अनुपयुक्त न हो, वैध मुद्रा माने जाते हैं । जब कभी भारतीय रिजर्व बैंक नोटों के एक विशिष्ट मूल्यवर्ग की एक विशिष्ट श्रृंखला को हटाने का निर्णय लेता है, तो मशीनें सभी हटाए जाने वाले नोटों को अनुपयुक्त के रूप में छांट लेंगी, चाहे उनकी भौतिक स्थिति कुछ भी हो।

2. प्रयोज्यता

ये मानक बैंकों द्वारा संचालित उन मशीनों पर लागू होते हैं, जो या तो सीधे उनके कर्मचारियों द्वारा या परोक्ष रूप से उनके एजेंटों द्वारा संचालित की जाती हैं । ये मशीनें निम्नलिखित में से कोई भी हो सकती हैं:

  1. वे मशीनें जो नोटों की प्रामाणिकता और फिटनेस की जांच करती हैं, अर्थात नोट प्रसंस्करण मशीन / नोट सॉर्टिंग मशीन, तथा

  2. वे मशीनें जो केवल नोटों की प्रामाणिकता की जांच करती हैं, अर्थात नोट प्रमाणीकरण मशीनें और एक –एक नोट को वास्तविक या संदिग्ध के रूप में वर्गीकृत करती हैं।

3. प्रामाणिकता जांच

ये मशीनें भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा समय-समय पर अपनी वेबसाइट पर प्रकट की गई वास्तविक नोटों की विशेषताओं के संदर्भ में प्रामाणिकता जांच करेंगी। ऐसा कोई भी नोट जिसमें वास्तविक नोट की सभी विशेषताएं नहीं पाई जाती हैं, उसे मशीन द्वारा संदिग्ध/अस्वीकृत के रूप में वर्गीकृत किया जाएगा।

4. फिटनेस सॉर्टिंग

फिटनेस सॉर्टिंग के एक भाग के रूप में, किसी भी दृश्यता या भौतिक दोष वाले नोटों को सारणी 1 में निर्धारित मानकों के अनुसार अनुपयुक्त के रूप में क्रमबद्ध किया जाना है।

सारणी 1: सॉर्टिंग मानदंड
क्र.सं. विशेषताएँ मानदंड
1 सॉइलिंग पूरे नोट में गंदगी का सामान्य वितरण
2 लिंपनैस संरचनात्मक ह्रास, जिसके परिणामस्वरूप कठोरता का बहुत अभाव हो जाता है
3 डॉग-ईयर्स कोने मुड़े हुए
4 टियर्स (कटे हुए) लंबाई और क्रॉसवाइज कट
5 छिद्र एक विशिष्ट व्यास के छिद्र
6 धब्बे गंदगी का स्थानबद्ध संकेन्द्रण
7 ग्रैफिटी (भित्तिचित्र) नोट का जानबूझकर ग्राफिक परिवर्तन
8 क्रंपल्स (टूटे/मुड़े हुए) एकाधिक यादृच्छिक मुड़े हुए
9 डीकलरेशन (विरंजन) नोट के हिस्से या पूरे हिस्से पर स्याही का अभाव, जैसे- एक धुला हुआ नोट
10 मुड़े हुए नोट की लंबाई या चौड़ाई को कम करने वाले फोल्ड
11 रिपेयर (सुधारना) चिपकने वाला टेप/कागज/गोंद का उपयोग करके सुधारे गए नोट

(i) सॉइलिंग

सॉइलिंग पूरे नोट में या कुछ पैटर्न में गंदगी के सामान्य वितरण को संदर्भित करता है। यह गंदगी, उम्र बढ़ने (पीलापन), घिसने और बाहरी निशानों के कारण अमुद्रित क्षेत्रों से परावर्तन के नुकसान का एक मापक है और इसमें उम्र बढ़ने, अत्यधिक समेटने और अन्य तरीके से घिसने कारण विरंजन शामिल है। गंदा होने से प्रकाशीय घनत्व बढ़ता है और नोटों का परावर्तन कम होता है। सारणी 2 में निर्धारित गंदे होने के स्तर से अधिक के नोटों को अनुपयुक्त के रूप में क्रमबद्ध किया जाएगा। गंदे होने के लिए नोट के आगे और पीछे दोनों ओर जाँच की जानी चाहिए।

क्र. सं. मूल्यवर्ग अधिकतम घनत्व अंतर न्यूनतम परावर्तन
1 5 0.07 85 %
2 10 0.07 85 %
3 20 0.06 87 %
4 50 0.06 87 %
5 100 0.05 90 %
6 200 0.05 90 %
7 500 0.04 93 %
8 2000 0.03 95 %

(ii) लिंपनैस

लिंपनैस संरचनात्मक ह्रास या घिसने से संबंधित है जिसके परिणामस्वरूप नोट पेपर में कठोरता का बहुत अभाव हो जाता है। कागज की बहुत कम कठोरता वाले नोट, अर्थात कागज सहित जो प्रचलन में खराब हो गए हैं या यंत्रवत् रूप से कटे-फटे हैं, उन्हें अनुपयुक्त के रूप में क्रमबद्ध किया जाएगा। कागज की गुणवत्ता के लिए डिटेक्टरों को उसी स्तर पर अनुकूलित किया जाना चाहिए जैसे कि गंदे नोट के लिए किया जाता है।

(iii) डॉग-ईयर

100 मिमी² से अधिक क्षेत्र के डॉग-ईयर वाले बैंकनोट और 5 मिमी से अधिक छोटे किनारे की न्यूनतम लंबाई को अनुपयुक्त के रूप में क्रमबद्ध किया जाएगा। चिपके हुए नोटों को भी अनुपयुक्त के रूप में क्रमबद्ध किया जाएगा।

(iv) टियर्स (कटे हुए)

किनारे पर कम से कम एक कट प्रदर्शित करने वाले नोटों को उन नोटों के रूप में वर्गीकृत किया जाएगा जिनमें कट हैं । सारणी 3 में दर्शाए गए कट से बड़े कट वाले नोटों को अनुपयुक्त के रूप में क्रमबद्ध किया जाएगा।

सारणी 3: टियर्स (कटे हुए)
क्र. सं. दिशा चौड़ाई लंबाई
1 लम्बवत 4 mm 8 mm
2 क्षैतिज 4 mm 15 mm
3 तिरछा * 4 mm 18 mm
* कट की लंबाई को मापने के बजाय, जहां से नोट का काटा हुआ भाग शुरू होता है, उस कट की चोटी से नोट के किनारे तक (आयताकार प्रक्षेपण) एक सीधी रेखा खींचकर मापा जाता है।

(v) छिद्र

यह कम से कम एक दृश्य छिद्र वाले नोटों को संदर्भित करता है। 8 मिमी² से अधिक क्षेत्रफल के छिद्र वाले नोटों को अनुपयुक्त के रूप में क्रमबद्ध किया जाएगा।

(vi) धब्बे

धब्बे दिखाई देने वाले वे निशान होते हैं जो किसी नोट की विशेषता का हिस्सा नहीं होते हैं। यदि स्थानबद्ध – अर्थात सीमित विस्तार के साथ - इसकी सतह पर धब्बों को देखा जा सकता है तो उन नोटों की पहचान अनुपयुक्त के रूप में की जाएगी । यदि कुल 500 मिमी² से अधिक क्षेत्र धब्बों से कवर है, तो नोट को अनुपयुक्त के रूप में क्रमबद्ध किया जाएगा। 200 मिमी² से अधिक के क्षेत्र को कवर करने वाले एकल धब्बे वाले नोट को अनुपयुक्त के रूप में क्रमबद्ध किया जाएगा। धब्बों के लिए नोट के आगे और पीछे दोनों की जाँच की जानी चाहिए।

(vii) ग्रैफिटी (भित्तिचित्र)

ग्रैफिटी, जैसे जानबूझकर आंकड़े या अक्षरों के साथ नोट के ग्राफिक परिवर्तन को संदर्भित करता है। ग्रैफिटी के मामले में फिटनेस सॉर्टिंग मानक धब्बों के समान ही होंगे। ग्रैफिटी के लिए नोट के आगे और पीछे दोनों की जाँच की जानी चाहिए।

(viii) क्रंपल्स/फोल्ड्स (टूटे/मुड़े हुए)

अगर फोल्ड (मोड़ने) के परिणामस्वरूप मूल नोट की लंबाई या चौड़ाई 5 मिमी से कम हो जाती है, तो टूटे हुए / मुड़े हुए नोटों को अनुपयुक्त नोट के रूप में क्रमबद्ध किया जाएगा।

(ix) डीकलरेशन (विरंजन)

यदि स्याही आंशिक रूप से या पूरी तरह से नोट की सतह से गायब है, तो इस प्रकार विरंजन से प्रभावित नोटों को अनुपयुक्त के रूप में क्रमबद्ध किया जाएगा। नोट के आगे और पीछे दोनों तरफ विरंजन हेतु जाँच की जानी चाहिए।

(x) रिपेयर (सुधारना)

एक सुधारा गया नोट वह है जिसे एक ही नोट के हिस्सों को एक साथ जोड़कर एक सुधार किया गया नोट बनाया जाता है, जैसे टेप, कागज या गोंद जैसी बाहरी सामग्री का उपयोग करके। निम्नलिखित प्रकार के सुधार किए गए नोटों को संदिग्ध/अस्वीकृत के रूप में क्रमबद्ध किया जाएगा:

  • 100 मिमी² से अधिक क्षेत्र को कवर करने वाले सुधार; या

  • बाहरी सामग्री की मोटाई 50 माइक्रोन या अधिक; या

  • बाहरी सामग्री की चौड़ाई 10 मिमी या अधिक; या

  • बाहरी सामग्री की लंबाई 10 मिमी या अधिक

5. कटे-फटे, अपूर्ण, बेमेल नोट और निर्मित नोट

एनआरआर 2009 (दिसंबर 2018 में संशोधित) में परिभाषित इन नोटों को संदिग्ध/अस्वीकृत के रूप में वर्गीकृत किया जाएगा।

6. किसी भी गलत कार्य से बचाने हेतु संदिग्ध/अस्वीकृत नोटों का व्यक्तिगत निरीक्षण किया जाएगा।

7. मशीनों का अंशशोधन और आवधिक परीक्षण

बैंक यह सुनिश्चित करेंगे कि सटीकता और निरंतरता के लिए नोट सॉर्टिंग मशीनों का तिमाही आधार पर परीक्षण किया जाता है और यदि आवश्यक हो तो पुन: अंशशोधन किया जाता है। इस आशय का एक प्रमाण पत्र (बैंक अधिकारियों द्वारा हस्ताक्षरित) रिकॉर्ड के लिए रखा जाएगा। तिमाही परीक्षण की आवधिकता का पालन संलग्न प्रारूप के अनुसार किया जा सकता है ।

2022
2021
2020
2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष