बैंकिंग प्रणाली का विनियामक

बैंक राष्‍ट्रीय वित्‍तीय प्रणाली की नींव होते हैं। बैंकिंग प्रणाली की सुरक्षा एवं सुदृढता को सुनिश्चित करने और वित्‍तीय स्थिरता को बनाए रखने तथा इस प्रणाली के प्रति जनता में विश्‍वास जगाने में केंद्रीय बैंक महत्‍वपूर्ण भूमिका अदा करता है।

अधिसूचनाएं


भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 की दूसरी अनुसूची से “डीबीएस बैंक लिमिटेड” को हटाना

भा.रि.बैं/2018-19/169
बैंविवि.सं.आरईटी.बीसी.36/12.06.096/2018-19

16 अप्रैल 2019

सभी अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक

महोदय/महोदया

भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 की दूसरी अनुसूची से “डीबीएस बैंक लिमिटेड” को हटाना

"डीबीएस बैंक लिमिटेड" की पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी के रूप में "डीबीएस बैंक इंडिया लिमिटेड" की स्थापना के परिणामस्वरूप, भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 की दूसरी अनुसूची से "डीबीएस बैंक लिमिटेड" को 06 मार्च 2019 की अधिसूचना बैंविवि.आईबीडी.सं.7336/23.13.046/2018-19, जो 06 अप्रैल 2019 को भारत के राजपत्र (भाग III-खंड 4) में प्रकाशित हुई, द्वारा हटाने का निर्णय लिया गया है।

भवदीय

(एम. जी. सुप्रभात)
उप महाप्रबंधक

2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष