निविदा


जुलाई 2020 से मार्च 2021 तक की अवधि के लिए बैंक के दवाखानों में दवाओं की आपूर्ति-करार करने के लिए बोली, हैदराबाद

ई-टेंडर सं. आरबीआई/हैदराबाद/एचआरएमडी/59/19.20/ईटी/468

भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा 30 अप्रैल 2018 को प्रमुख स्थानीय अखबारों में जारी किए गए विज्ञापन में केमिस्ट/ ड्रगिस्ट /स्टॉकिस्ट की प्रतिक्रिया के परिणामस्वरूप आरबीआई डिस्पेंसरी में ड्रग्स और दवाओं की आपूर्ति के लिए केमिस्ट/ ड्रगिस्ट /स्टॉकिस्ट के अनुकरण में तीन आपूर्तिकर्ताओं का पैनल को वर्ष 2018-2021 से अर्थात श्री दुर्गा मेडिकल एजेंसी, विनय मेडिकल स्टोर्स और विजया मेडिकल और जनरल स्टोर्स जो कि पात्रता मानदंड को पूरा किए है और निर्दिष्ट सभी नियमों और शर्तों से सहमत है, उन्हें इम्पैनलमेंट दस्तावेज़ के अनुरोध के क्रम में एक पैनल तैयार किया गया था ।

2. अब जुलाई 2020 से मार्च 2021 तक बैंक की डिस्पेंसरियों को दवाओं की संविदा आपूर्ति प्रदान करने के लिए निविदा के लिए अनुभवी केमिस्ट / ड्रगिस्ट / स्टॉकिस्ट से संविदा दर आमंत्रित किया जाता है। संभावित व्यय रु 2.5 करोड़ है। यदि आपको रुचि है, तो आपसे अनुरोध किया जाता है कि संलग्न सूची के अनुसार वस्तुओं की अस्थायी खरीद के लिए अपनी सर्वोत्तम समान छूट दर का उल्लेख करें। अपना प्रस्ताव ई-निविदा के भाग II में मूल्य बोली में दें। रुपये 5,00,000 (केवल पांच लाख रुपये) का बयाना जमा 01 जून 2020 को या उससे पहले जमा किया जाना है। इस तरह के एम्पैनल केमिस्ट्स/ ड्रगिस्ट / स्टॉकिस्ट जिन्होंने ईएमडी जमा किया है उनकी निविदा बोली को ही केवल अनुबंध प्रदान करने के लिए मान्य माना जाएगा ।

नियम एवं शर्तें :

नियम और शर्तें नीचे विस्तृत रूप में और हमारे एम्पैनलमेंट दस्तावेज़ के अनुरोध के लिए निर्दिष्ट किए गए हैं और आपके द्वारा स्वीकार किए गए हैं,उसे लागू किया जाएगा। फॉर्म -1 में दर्शाई गई विशेष शर्तें भी लागू होंगी।

1. एनईएफटी (IFSC: RBH0NEFTHY) (कृपया पाँचवें अक्षर को ZERO के रूप में पढ़ें); खाता संख्या 8614038) के माध्यम से आपकी बोलियों के साथ रु 5,00,000/ - (केवल पांच लाख रुपये) का बयाना जमा राशि (केवल पांच लाख रुपये) को जमा किया जाना आवश्यक है। ईएमडी के बिना बोलियों पर विचार नहीं किया जाएगा और उसे तुरंत खारिज कर दिया जाएगा। सफल बोली लगाने वाले को अनुबंध देने के 15 दिनों के भीतर, असफल बोली दाताओं की ईएमडी वापस कर दिया जाएगा। अपनी प्रतिबद्धता/कोटेशन का सम्मान नहीं करने वाले बोलीदाताओं की ईएमडी को भारतीय रिज़र्व बैंक, हैदराबाद के आंध्रा प्रदेश और तेलंगाना के क्षेत्रीय निदेशक के विवेक पर ज़ब्त किया जा सकता है, जो अपनी कार्रवाई का कोई भी कारण बताने के लिए बाध्य नहीं है।

2. सफल बोलीदाता को अनुबंध प्रदान करने की तारीख से तीस दिनों की अवधि के भीतर अनुसूचित बैंक से रु. 25,00,000/- (रु केवल पच्चीस लाख) का निष्पादन बैंक गारंटी (पीबीजी) प्रस्तुत करना होगा जो कि भारतीय रिज़र्व बैंक, हैदराबाद के पक्ष में होगा और इसकी वैधता छह महीने से अधिक की अवधि के लिए वैध होगी । बोली के साथ जमा की गई ईएमडी को पीबीजी की प्राप्ति के बाद जल्द ही लौटा दिया जाएगा। पीबीजी के लिए प्रारूप फॉर्म –II में दिया गया है।

3. फॉर्म-III के प्रारूप के अनुसार सफल बोलीदाता के साथ बैंक अनुबंध करार करेगा। अनुबंध नौ महीने की अवधि के लिए मान्य होगा, अर्थात् 01 जुलाई 2020 से 31 मार्च 2021 तक और आपके द्वारा उल्लेख किया गया एकसमान छूट अनुबंध अवधि के लिए पक्की और मान्य रहेगी।

4. किसी भी परिस्थिति में छूट दर में परिवर्तन के लिए अनुरोध स्वीकार/विचार नहीं किया जाएगा।

5. समय अनुबंध का सार है, आपको प्रत्येक खरीद ऑर्डर में दिए गए वितरण शेड्यूल के अनुसार बैंक की निर्दिष्ट दवाखाने में दवाओं की डिलीवरी करनी होगी। केमिस्ट/ ड्रगिस्ट/स्टॉकिस्ट के पास आदेश को निष्पादित करने और यदि आवश्यक हो, तो अस्वीकृत सामग्री को बदलने के लिए हैदराबाद में अपना कार्यालय होना चाहिए।

6. यह नोट किया जाए कि विधि के तहत लागू होने वाले किसी भी ड्यूटी, शुल्क या करों का भुगतान करने के लिए देयता केमिस्ट/ड्रगिस्ट/स्टॉकिस्टों की होगी। बैंक द्वारा निर्दिष्ट किसी भी स्थान पर आपूर्ति के संबंध में उचित दवा, कार्टिंग, परिवहन इत्यादि से जुड़े सभी खर्चों आदि को केमिस्ट/ड्रगिस्ट/स्टॉकिस्ट द्वारा ही वहन करना होगा। आपके प्रस्ताव के अनुसार बैंक द्वारा केवल लेबल किए गए एमआरपी पर छूट कम करते हुए भुगतान किया जाएगा।

7. ईएमडी के बिना प्राप्त कोटेशन (बोली)को गैर-जिम्मेदार माना जाएगा और एकबारगी खारिज कर दिया जाएगा।

8. फॉल खंड (कीमत में उतार-चढ़ाव संबंधी खंड): यदि केमिस्ट / ड्रगिस्ट / स्टॉकिस्ट जिनके साथ बैंक ने एक खरीद अनुबंध किया है वे यदि दर अनुबंध की अवधि में बैंक के अनुबंध के समान किसी भी व्यक्ति या संगठन से बैंक के अनुबंध के अनुरूप दवा बेचने का प्रस्ताव देता है अथवा उच्च छूट देता है या बेचता है या प्रदान करता है तब प्रभावी तिथि से बैंक के लिए लागू छूट दर अनुबंध के अंतर्गत सभी आपूर्ति के लिए स्वचालित रूप से बढ़ेगी और तदनुसार अनुबंध को संशोधि‍त किया जाएगा। अन्य समानांतर अनुबंध धारकों, यदि कोई हो, को भी उनकी कीमत को कम करने का अवसर दिया जाएगा, जो कि कीमत को कम करने के बारे में सूचित कर सकते है और उनकी संशोधित कीमतों के बारे में जानकारी देने के लिए 15 (पंद्रह) दिन का समय दिया जाएगा, यदि वे चाहें, तो निर्दिष्ट तारीख और समय पर सार्वजनिक रूप से एक सीलबंद कवर खोला जाएगा और मानक प्रक्रिया के अनुसार आगे की कार्रवाई की जाएगी।

9. मूल्यांकन मानदंड: निविदा बोली एमआरपी के लिए छूट पर आधारित होगी और नौ महीने की अवधि के लिए अनुबंध होगा, जो 01 जुलाई 2020 से 31 मार्च, 2021 तक (प्रपत्र III) एच 1 बोलीदाता को दिया जाएगा यानी बोलीदाता उच्चतम छूट प्रदान करेगा। बैंक एक से अधिक केमिस्ट / ड्रगिस्ट / स्टॉकिस्ट के साथ अनुबंध कर सकता है जो कि उसको उच्चतम छूट प्रदान करेंगे।

10. उपरोक्त नियमों और शर्तों को पूरा करने और उच्चतम छूट की पेशकश करने का अर्थ अनुबंध प्रदान करने के लिए अर्हता प्राप्त करना नहीं है।

11. क्षेत्रीय निदेशक, भारतीय रिज़र्व बैंक, हैदराबाद के पास, प्राप्त सभी प्रस्तावों को स्वीकार करने या अस्वीकार करने का अधिकार है और इसमे कोई भी कारण बताया जाना आवश्यक नहीं है। क्षेत्रीय निदेशक, इस दस्तावेज़ में उल्लिखित किसी भी खंड को बदलने या परिवर्तित करने का अधिकार सुरक्षित रखते है, जो बैंक के हित में उन्हें उचित लगता है।

12. भारतीय रिज़र्व बैंक, हैदराबाद के क्षेत्रीय निदेशक के पास बिना कोई कारण बताए और बिना किसी पूर्वाग्रह के एक महीने की नोटिस अवधि देकर अनुबंध को समाप्त करने का अधिकार सुरक्षित है।

(के. अनुराधा)
सहायक महाप्रबंधक
18 मई 2020


2020
2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष