प्रेस प्रकाशनी

(320 kb )
रिज़र्व बैंक के गवर्नर ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी - लघु वित्त संस्थानों (एनबीएफ़सी-एमएफ़आई) के एमडी और सीईओ के साथ बैठक की

3 मई 2021

रिज़र्व बैंक के गवर्नर ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी - लघु वित्त संस्थानों
(एनबीएफ़सी-एमएफ़आई) के एमडी और सीईओ के साथ बैठक की

गवर्नर, भारतीय रिजर्व बैंक (रिज़र्व बैंक) ने 3 मई 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से चुनिंदा एनबीएफ़सी-एमएफ़आई के एमडी / सीईओ के साथ बैठक की। बैठक में उप गवर्नर श्री एम. के. जैन, डॉ. एम. डी. पात्र और रिज़र्व बैंक के कुछ अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

अपनी प्रारंभिक भाषण में, गवर्नर ने जमीनी स्तर पर ऋण सुलभ बनाने में एनबीएफ़सी-एमएफ़आई की महत्वपूर्ण भूमिका की सराहना की। उन्होंने अपने कारोबारी लचीलेपन को बनाए रखने और विवेकपूर्ण तरीके से जोखिमों को प्रबंधित करने के संदर्भ में पर्यवेक्षी अपेक्षाओं पर भी जोर दिया। उन्होंने एनबीएफसी-एमएफआई को उचित व्यवहार संहिता के कड़ाई से पालन पर ध्यान देने, ग्राहक शिकायत निवारण तंत्र में सुधार करने और संस्थानों एवं उनके ग्राहकों के हित में अपने आईटी प्रणाली को मजबूत करने हेतु सूचित किया।

अन्य मामलों के साथ-साथ, बैठक में निम्नलिखित मुद्दों पर चर्चा की गई।

  • वर्तमान आर्थिक स्थिति का आकलन;

  • एमएफआई के उधारकर्ताओं के लिए क्रेडिट प्रवाह;

  • एनबीएफसी-एमएफआई की तुलन-पत्र पर संभावित तनाव संबंधी संभावना।

  • चलनिधि परिदृश्य।

(योगेश दयाल) 
मुख्य महाप्रबंधक

प्रेस प्रकाशनी: 2021-2022/151


2021
2020
2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष