प्रेस प्रकाशनी

संशोधित चलनिधि प्रबंधन ढांचे के तहत चलनिधि सुविधाएं

6 फरवरी 2020

संशोधित चलनिधि प्रबंधन ढांचे के तहत चलनिधि सुविधाएं

06 फरवरी 2020 को विकासात्मक और विनियामक नीति वक्तव्य में संशोधित चलनिधि प्रबंधन ढांचे की घोषणा की गई है। तदनुसार, संशोधित चलनिधि प्रबंधन ढांचे के तहत रिज़र्व बैंक चलनिधि सुविधाएं निम्नानुसार होंगी:

क्रम सं. लिखत मात्रा आवधिकता / समय
क. अल्पकालिक / अस्थायी चलनिधि का प्रबंधन करने के लिए एलएएफ ढांचे के तहत लिखत
1. 14-दिवसीय परिवर्तनीय-दर रेपो / प्रतिवर्ती रेपो नीलामी (मुख्य परिचालन) नीलामी की राशि रिज़र्व बैंक द्वारा तय की जाएगी और रिज़र्व बैंक द्वारा चलनिधि की स्थिति के आकलन के आधार पर एकल नीलामी (रेपो या प्रतिवर्ती रेपो) आयोजित की जाएगी। सूचना देने के लिए नियत शुक्रवार (अपराह्न 2.30 बजे से - अपराह्न 3.00 बजे तक)

(यदि रिपोर्टिंग शुक्रवार को छुट्टी है, तो नीलामी मुंबई में पूर्ववर्ती कार्य दिवस पर आयोजित की जाएगी)
2. परिवर्तनीय दर मियादी रेपो / प्रतिवर्ती रेपो नीलामी (अवधि: ओवरनाइट और 13 दिनों तक) (फाइन-ट्यूनिंग परिचालन) नीलामी की राशि का निर्धारण चलनिधि की स्थिति के आकलन के आधार पर रिज़र्व बैंक द्वारा किया जाएगा। विवेकाधीन
3. स्थिर दर प्रतिवर्ती रेपों राशि पर कोई प्रतिबंध नहीं दैनिक रूप से अपराह्न 5.30 और अपराह्न 11.59 बजे के बीच (शनिवार, रविवार और अवकाश सहित)
4. सीमांत स्थायी सुविधा (एमएसएफ़) व्यक्तिगत बैंक अतिरिक्त एसएलआर + एसएलआर से नीचे 2 प्रतिशत पर निधि अहरित कर सकते हैं।
5. एफ़एक्स स्वैप राशि का निर्धारण चलनिधि की स्थिति के आकलन के आधार पर रिज़र्व बैंक द्वारा किया जाएगा। विवेकाधीन
6. स्थायी जमा सुविधा (एसडीएफ़) स्थायी जमा सुविधा (एसडीएफ) के परिचालन विवरण अलग से जारी किए जाएंगे।
ख. स्थायी चलनिधि का प्रबंधन करने के लिए लिखत
7. दीर्घकालिक परिवर्तनीय दर रिपो (एलटीआर)

अवधि: 14 दिनों से अधिक
नीलामी की राशि का निर्धारण चलनिधि की स्थिति के आकलन के आधार पर रिज़र्व बैंक द्वारा किया जाएगा। विवेकाधीन
8. दीर्घकालिक परिवर्तनीय दर प्रतिवर्ती रिपो (एलटीआरआर)

अवधि: 14 दिनों से अधिक
9. एफ़एक्स स्वैप विकल्प नीलामी की राशि का निर्धारण चलनिधि की स्थिति के आकलन के आधार पर रिज़र्व बैंक द्वारा किया जाएगा। विवेकाधीन
10. खुला बाजार परिचालन (ओएमओ)

2. स्थिर दर प्रतिवर्ती रेपो और एमएसएफ परिचालनों के लिए निम्नलिखित बिंदुओं को भी नोट किया जाएं:

(i) जैसाकि दिनांक 24 नवंबर 2015 की रिज़र्व बैंक की प्रेस प्रकाशनी 2015-2016/1231 द्वारा सूचित किया गया है, बोलियों की भौतिक प्रस्तुति पर विचार नहीं किया जाएगा।

(ii) इन परिचालनों का प्रत्यावर्तन वैसे ही किया जाएगा जैसे वर्तमान में किया जा रहा है।

(iii) इन परिचलनों के परिणामों को मुद्रा बाजार परिचालन (एमएमओ) प्रेस प्रकाशनी में प्रकाशित किया जाएगा

3. ये परिवर्तन 14 फरवरी 2020 (शुक्रवार) से लागू होंगे।

(योगेश दयाल)  
मुख्य महाप्रबंधक

प्रेस प्रकाशनी: 2019-2020/1900


2020
2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष