प्रेस प्रकाशनी

सिंगापुर गणराज्य के वरिष्ठ मंत्री श्री थरमन षणमुगरत्नम ने तीसरा सुरेश तेंदुलकर स्मृति व्याख्यान "व्यापक समृद्धि: बुनियादी बातों का समाधान" शीर्षक से प्रस्तुत किया।

07 जनवरी 2020

सिंगापुर गणराज्य के वरिष्ठ मंत्री श्री थरमन षणमुगरत्नम ने तीसरा सुरेश तेंदुलकर स्मृति व्याख्यान
"व्यापक समृद्धि: बुनियादी बातों का समाधान" शीर्षक से प्रस्तुत किया।

भारतीय रिज़र्व बैंक ने 7 जनवरी 2020 को मुंबई में तीसरे सुरेश तेंदुलकर स्मृति व्याख्यान की मेजबानी की। इस व्याख्यान को सिंगापुर गणराज्य के वरिष्ठ मंत्री श्री थरमन षणमुगरत्नम द्वारा प्रस्तुत किया गया। गवर्नर शक्तिकांत दास ने अपने प्रारंभिक भाषण में अतिथियों का स्वागत किया और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में प्रोफेसर सुरेश तेंदुलकर के योगदान और रिज़र्व बैंक के साथ उनकी संबद्धता के सम्मान में 2013 में शुरू की गई व्याख्यान श्रृंखला के महत्व पर प्रकाश डाला।

श्री थरमन ने "व्यापक समृद्धि: बुनियादी बातों का समाधान" इस विषय पर बात करते हुए व्यापक समृद्धि प्राप्त करने के लिए महत्वपूर्ण सामाजिक और आर्थिक परिवर्तन संबंधी समस्याओं और चुनौतियों पर ध्यान केंद्रित किया। इसके अलावा उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि सामाजिक और आर्थिक परिवर्तन साथ-साथ होना चाहिए। सामाजिक परिवर्तन के लिए पूर्व आवश्यकताओं के रूप में विकास और उत्पादकता में वृद्धि को उन्होंने महत्व दिया। भारत के संदर्भ में उन्होंने मानव संसाधन और स्वच्छ और स्मार्ट शहरों के विकास के क्षेत्रों में संरचनात्मक सुधारों की आवश्यकता अधोरेखित की। मानव संसाधन के संबंध में उन्होंने शिक्षा, स्वास्थ्य देखभाल, कौशल मिलान और श्रम बाजार सुधार जैसे सुधारों को नोट किया। उन्होंने यह भी कहा कि नए शहर समावेशी विकास में अनुकूल भूमिका निभा सकते हैं। उन्होंने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि समावेशी विकास और व्यापक समृद्धि प्राप्त करने में फिनटेक और ग्रीन फाइनेंस महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं।

(योगेश दयाल) 
मुख्य महाप्रबंधक

प्रेस प्रकाशनी: 2019-2020/1637


2020
2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष