प्रेस प्रकाशनी

चेन्नई में रिज़र्व बैंक के केन्द्रीय बोर्ड की बैठक

21 मई 2019

चेन्नई में रिज़र्व बैंक के केन्द्रीय बोर्ड की बैठक

भारतीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई) के केंद्रीय बोर्ड की बैठक आज श्री शक्तिकांत दास, गवर्नर, भारतीय रिजर्व बैंक की अध्यक्षता में चेन्नई में हुई। यह केंद्रीय बोर्ड की 576 वीं बैठक थी। बोर्ड ने श्री वाई.सी. देवेश्वर, केंद्रीय बोर्ड के पूर्व निदेशक की याद में एक शोक प्रस्ताव पारित किया। केंद्रीय बोर्ड के सदस्यों ने आतंकवाद विरोधी दिवस के अवसर पर शपथ भी ली।

बोर्ड ने वर्तमान आर्थिक स्थिति, वैश्विक और घरेलू चुनौतियों और रिजर्व बैंक परिचालनों के विभिन्न क्षेत्रों की समीक्षा की। अन्य महत्वपूर्ण मामलों में, बोर्ड ने मध्यम अवधि की रणनीति के दस्तावेज पर चर्चा की जिसमें अन्य बातों के साथ-साथ, मिशन स्टेटमेंट और विज़न स्टेटमेंट को शामिल किया गया। बोर्ड ने भारतीय वित्तीय क्षेत्र में बढ़ती विविधताओं, जटिलताओं और अंतर्संबंधों के संदर्भ में रिज़र्व बैंक में पर्यवेक्षण की वर्तमान संरचना की भी समीक्षा की। वाणिज्यिक बैंकों, शहरी सहकारी बैंकों और गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों के पर्यवेक्षण और विनियमन को मजबूत करने के उद्देश्य से, बोर्ड ने रिज़र्व बैंक के भीतर एक विशेष पर्यवेक्षी और विनियामक संवर्ग बनाने का निर्णय लिया। बोर्ड द्वारा अन्य मामलों पर की गयी चर्चा में अन्य बातों के साथ-साथ, रिज़र्व बैंक द्वारा मुद्रा प्रबंधन और सरकार के बैंकर के रूप में कार्य से संबंधित मुद्दे शामिल थे।

भारतीय रिज़र्व बैंक के उप गवर्नर श्री एन.एस विश्वनाथन, डॉ. विरल वी. आचार्य, श्री बी. पी कानूनगो और श्री महेश कुमार जैन और रिज़र्व बैंक के केंद्रीय बोर्ड के अन्य निदेशक - श्री भारत दोशी, श्री सुधीर मांकड़, श्री मनीष सभरवाल, श्री सतीश मराठे, श्री स्वामीनाथन गुरुमूर्ति, सुश्री रेवती अय्यर और प्रो. सचिन चतुर्वेदी ने बैठक में भाग लिया। सरकार के निदेशक श्री सुभाष चंद्र गर्ग, वित्त सचिव और सचिव, आर्थिक कार्य विभाग और श्री राजीव कुमार, सचिव, वित्तीय सेवा विभाग भी बैठक में शामिल हुए।

योगेश दयाल
मुख्य महाप्रबंधक

प्रेस प्रकाशनी: 2018-2019/2729


2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष