प्रेस प्रकाशनी

प्रोफेसर विजय जोशी, एमरिटस फेलो, मर्टन कॉलेज,ऑक्सफ़ोर्ड, ने "भारत का आर्थिक सुधार: अधूरे एजेंड़ा पर चिंतन" विषय पर 15वां एल.के.झा स्मृति व्याख्यान दिया

11 दिसंबर 2017

प्रोफेसर विजय जोशी, एमरिटस फेलो, मर्टन कॉलेज,ऑक्सफ़ोर्ड, ने 'भारत का आर्थिक सुधार:
अधूरे एजेंड़ा पर चिंतन' विषय पर 15वां एल.के.झा स्मृति व्याख्यान दिया

भारतीय रिजर्व बैंक ने 11 दिसंबर 2017 को मुंबई में पंद्रहवें एल.के.झा स्मृति व्याख्यान की मेजबानी की। प्रोफेसर विजय जोशी, एमरिटस फेलो, मर्टन कॉलेज, ऑक्सफ़ोर्ड द्वारा व्याख्यान दिया गया था। गवर्नर डॉ.उर्जित पटेल ने मेहमानों का स्वागत किया और भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा 1990 में शुरू की गई एल.के. झा स्मृति व्याख्यान श्रृंखला के महत्व को उजागर किया।

प्रोफेसर विजय जोशी ने भारत पर कई पुस्तकें लिखी,जिसमें इंडियाज लांग रोड: द सर्च फॉर प्रॉस्पेरिटी (पेंगुइन इंडिया, नई दिल्ली, 2016 और ओ.यू.पी.,न्यूयॉर्क, 2017) सहित इंडियाज इकॉनामिक रिफॉर्म,1991-2001 (ओ.यू.पी., क्लेयरडन प्रेस, ऑक्सफोर्ड, 1996) और इंडिया: मैक्रोइकॉनॉमिक्स एंड पोलिटिकल इकॉनामी, 1964 -1991 ( वर्ल्ड बैंक और ओ.यू.पी. 1994) है। उन्होंने, समय-समय पर, विभिन्न आधिकारिक और व्यावसायिक पदों पर कार्य किया, जिसमें गवर्नर के विशेष सलाहकार, भारतीय रिजर्व बैंक; विशेष कार्य अधिकारी, वित्त मंत्रालय, भारत सरकार; निदेशक, जे.पी.मार्गन इंडियन इन्वेस्टमेंट ट्रस्ट; और विश्व बैंक सहित कई अंतरराष्ट्रीय संगठनों के सलाहकार होना शामिल है। उनके कार्यरत कैरियर का प्राथमिक फोकस ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय में मैक्रोइकॉनॉमिक्स, अंतर्राष्ट्रीय अर्थशास्त्र और विकास अर्थशास्त्र के क्षेत्र में शिक्षण और अनुसंधान रहा है।

प्रोफेसर जोशी का "भारत का आर्थिक सुधार: अधूरे एजेंड़ा पर चिंतन" नामक व्याख्यान https://www.rbi.org.in पर उपलब्ध है।

जोस जे. कट्टूर
मुख्य महाप्रबंधक

प्रेस प्रकाशनी: 2017-2018/1588


2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष