भुगतान और निपटान प्रणाली

अर्थव्‍यवस्‍था की समग्र दक्षता में सुधार करने में भुगतान और निपटान प्रणाली महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। इसके अंतर्गत राशि-मुद्रा, चेकों जैसी कागज़ी लिखतों के सुव्‍यवस्थित अंतरण और विभिन्‍न इलेक्‍ट्रॉनिक माध्‍यमों के लिए विभिन्‍न प्रकार की व्‍यवस्‍थाएं हैं।

प्रेस प्रकाशनी


भुगतान गेटवे और भुगतान एग्रीगेटर्स के लिए दिशानिर्देशों पर चर्चा पत्र

17 सितंबर 2019

भुगतान गेटवे और भुगतान एग्रीगेटर्स के लिए दिशानिर्देशों पर चर्चा पत्र

रिजर्व बैंक ने आज अपनी वेबसाइट पर भुगतान गेटवे और भुगतान एग्रीगेटर्स के लिए दिशानिर्देशों पर एक चर्चा पत्र सार्वजनिक टिप्पणियों के लिए रखा है।

2018-19 के लिए छठे द्विमासिक मौद्रिक नीति वक्तव्य के साथ जारी विकासात्मक और विनियामक नीतियों पर वक्तव्य में रिज़र्व बैंक ने घोषणा की थी कि भुगतान गेटवे प्रदाताओं और भुगतान एग्रीगेटर की भुगतान गतिविधियों से संबंधित व्यापक दिशानिर्देशों पर हितधारकों के साथ परामर्श के लिए पब्लिक डॉमेन में एक चर्चा पत्र प्रस्तुत किया जाएगा।

रिज़र्व बैंक सभी हितधारकों और जनता से 17 अक्टूबर 2019 तक पॉलिसी पेपर पर टिप्पणियां आमंत्रित करता है। ये टिप्पणियां मुख्य महाप्रबंधक, भुगतान और निपटान प्रणाली, भारतीय रिज़र्व बैंक, केंद्रीय कार्यालय, 14 वीं मंजिल, शहीद भगत सिंह मार्ग, मुंबई - 400001 को डाक द्वारा या इमेल की जा सकती हैं।

योगेश दयाल  
मुख्य महाप्रबंधक

प्रेस प्रकाशनी : 2019-2020/721

2019
2018
2017
2016
2015
2014
2013
2012
पुरालेख
Server 214
शीर्ष